रविवार, 19 जुलाई 2009

"बाबा की कुर्सी"


पहाड़ी बाबा बारह वर्षों तक (१९६०-१९७२) इस आश्रम में रहे। इसी फोल्डिंग चेयर पर बैठकर बाबा भक्तों से बात-चीत करते थे, उनकी समस्याओं का समाधान करते थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें