रविवार, 19 जुलाई 2009

"वानप्रस्थ-आश्रम"


यह जर्जर भवन (जो पिछले तीस वर्षों से B.S.K. कॉलेज के अधीन है) पहाड़ी बाबा के समय में वानप्रस्थ आश्रम हुआ करता था, जहाँ जीवन के तीसरे-चौथे चरण में पहुँच चुके भक्तजन आकर कुछ समय ठहरते थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें